Friday, 18 September 2015

संगीतकार ओ पी नैय्यर की आवाज में कबीर वाणी

अनोखी और दिलचस्प जानकारी - 26
---------------------------------------- 


16 जनवरी 1926 में लाहौर में जन्मे ओ पी नैय्यर ने विधिवत संगीत शिक्षा ग्रहण नहीं की थी ! यह उनकी नैसर्गिक प्रतिभा थी, जो इसके बावजूद उन्हें शीर्ष पर ले आयी ! न्यू थियेटर्स के संगीत से वे बचपन से ही प्रभावित रहे, उनकी आरंभिक कई रचनाओं में इसका असर दिखता है ! बचपन से ही बच्चों के कार्यक्रम में लाहौर रेडियो से वे गाने लगे थे ! प्रथम बार फिल्मों में गाने का मौका उन्हें रूप शोरी की फिल्म 'दूल्हा भट्टी' में मिला, जहाँ गोविन्दराम के संगीत निर्देशन में उन्हें गाने का अवसर प्राप्त हुआ ! परिवार से उन्हें इस संगीत प्रेम के लिए प्रोत्साहन नहीं मिला, पर नैय्यर का मन पढ़ाई में कम और संगीत में अधिक रमता था ! 

17 वर्ष की आयु में ही नैय्यर साहब ने एच एम वी के लिए खुद की कम्पोज की गयी 'कबीर वाणी' गाई ! 
आज हम आपको ओ पी नैय्यर साहब की आवाज में वही दुर्लभ रिकार्डिंग सुनवा रहे हैं :
  
******
******

==========================
End
==========================